Friday, March 14, 2008

मुस्कान



प्रेम प्यार की तान देखिये
कैसी ये मुस्कान देखिये
आदमी की हंसी देखकर
बन्दर जी परेशान देखिये
Post a Comment