Friday, November 23, 2007

साप्ताहिक कालम



मोदी

गोधरा अब ना सहारा है
नंदीग्राम ने हमको मारा है
उमा भारती भी बोल रही
नरेन्द्र मोदी हमारा है

---------------------------------------------
आस्था

कुतुब के रास्ते से मैट्रो को हटाना जरूरी है
ताजमहल को धुंए से बचाना जरूरी है
रामसेतु भी है जन-जन की आस्था
फिर क्यों उस आस्था को मिटाना जरूरी है
---------------------------------------------------------------------------------
युवराज राहुल

मनमोहन जी ने कहा राहुल हैं युवराज
कांग्रेस और देश का भला करेंगे काज
भला करेंगे काज बोलना सीख रहे हैं
संसद में भी थोड़ा थोड़ा दीख रहे हैं
कह चेतन कविराय आरती, वन्दन गाओ
आने वाले पी॰ एम॰ जी को शीश झुकाओ
--------------------------------------------------------------------------------
मुशर्रफ

कुर्सी बड़ी महान देखिये मियां जी
देश बड़ा परेशान देखिये मियां जी
आपातकाल में सांस नहीं ले पाओगे
खतरे में है जान देखिये मियां जी
------------------------------------------------------------------------------
करवा चौथ

पत्नी ने भी कैसा धर्म निभाया है
साल साल भर हमको खूब रुलाया है
करवा चौथ को एक दिन पूजा होती
हमको उल्लू उसने खूब बनाया है
-----------------------------------------------------------------------------
दशहरा

संतों का सम्मान दशहरा होता है
दुष्टों का अपमान दशहरा होता है
राम द्रोहियों को फांसी पर लटकाओ
धर्म विजय अभियान दशहरा होता है।
-----------------------------------------------------------------------------
ब्लू लाईन

नेताओं में छल ही छल है दिल्ली में
बस वालों में पूरा बल है दिल्ली में
ब्लू लाईन को रोक नहीं सकता कोई
केवल मौत ही इसका हल है दिल्ली में
---------------------------------------------------------------------------
प्याज

सिंहासन और प्याज का गहरा है सम्बन्ध
कुर्सी आई और गई अद्भुद इसकी गंध
अद्भुद इसकी गंध कांग्रेस डोल रही है
शीला आंटी मुख से कुछ ना बोल रही है
कह चेतन कविराय प्याज लगता है भारी
देखें किसके हाथ में होगी दिल्ली प्यारी
-----------------------------------------------------------------------------
वर्ल्ड कप

सारे जग में ऊँची शान
क्या कर लेगा पाकिस्तान
सारी दुनिया मान गई
विश्व विजेता हिन्दुस्तान
----------------------------------------------------------------------------
दिल्ली पुलिस

पावन धवल चरित्र हमारी दिल्ली में
पुलिस बनी है मित्र हमारी दिल्ली में
भर्ती होने से पहले ही दिखा दिया
अपना नंगा चित्र हमारी दिल्ली में
------------------------------------------------------------------------------
राम सेतु

दिल्ली आसन पर जमे हैं राहु केतु
राम का ये भक्त है बस वोट हेतु
राजनीति में उलझ कर रह गया है
क्या बचेगा राम सेतु राम सेतु
----------------------------------------------------------------------------
मल्होत्रा

मल्होत्रा अशोक ने कैसा किया कमाल
चाय चक्कर में हुआ देखो मालामाल
देखो मालामाल हुई नेता से यारी
विधानसभा में खूब चलाई ठेकेदारी
कह चेतन कविराय धन्य है सी बी आई
पता लगेगा किस किसने है रिश्वत खाई
----------------------------------------------------------------------------
किरण बेदी

महिलाओं की पूजा करता यूपीए
प्रतिभा पाटिल पर है मरता यूपीए
केवल चाटूकार पसन्द हैं मैडम को
किरण बेदी जी से डरता यूपीए
----------------------------------------------------------------------------
हिन्दी

हिन्दी अब तो अमरीका में जायेगी
हिन्दी से हिन्दा बनकर के आयेगी
अमरीका से लौटी अपनी हिन्दी माँ
भारत में फिर कुछ तो इज्जत पायेगी
----------------------------------------------------------------------------
ब्लू लाईन

शीला जी को कुर्सी से ही प्यार है
ब्लू लाईन का चहुंओर चीत्कार है
मौत के सौदागर सड़कों पर नाच रहे
निद्रा में क्यू दिल्ली की सरकार है
----------------------------------------------------------------------------
लाल मस्जिद

आतंकी साजिशें जंजाल हो गई
पाकिस्तानी जनता बेहाल हो गई
मुशर्रफ जी शांति का ढोल पीटते
लाल मस्जिद खून से लाल हो गई
-----------------------------------------------------------------------------
शेखावत

रायसीना हिल्स की प्यारे अलग छटा है अलग है वादी
यू पी ए और एन डी ए की टूट गई चुनावी शादी
शेखावत तो निश्चित होगा राष्ट्रपति हो या पत्नी हो
एक ओर शेखावत दादा दूजी ओर शेखावत दादी
--------------------------------------------------------------------------
विश्वविद्यालय

विश्वविद्यालय एडमिशन क्या कहना
भटक रहा है तन और मन क्या कहना
लगता है पैरिस ही उत्तरा दिल्ली में
चहुंओर है फन ही फन क्या कहना
----------------------------------------------------------------------------
राजस्थान

राजस्थान में है मचा देखो क्या हुडदंग
गुर्जर मीणा में छिड़ी बड़े जोर की जंग
बड़े जोर की जंग बसुन्धरा दूर खड़ी है
राजमार्गों पर भी मित्रों जंग छिड़ी है
कह चेतन कविराय आरक्षण बंद कीजिये
खुशहाली के मार्ग का प्रबन्ध कीजिये
-----------------------------------------------------------------------------
तीन साल

मनमोहन सरकार का बीता तीजा वर्ष
कांग्रेस में अब है नहीं देखो कोई हर्ष
देखो कोई हर्ष महंगाई बढ़ती जाती
हर चुनाव में मात सोनिया मुँह की खाती
कह चेतन कविराय करो ना जनता दोहन
फिर से ना आ पाओगे तुम प्यारे मोहन
-----------------------------------------------------------------------------
मेघालय

हरे हरे पर्वत के ऊपर गुफा दीखती है सुंदर
गोहाटी में गोरा माँ है, मेघालय में शिवशंकर
गौमाता के थन से निकली बूंद बूंद ये कहती है
एकलव्य की भूमि का पावन है कंकर कंकर
----------------------------------------------------------------------------
सच्चा सौदा

नकल असल का बोल रहे ये पंगा है
गुरूओं की भूमि पर फैला दंगा है
सच्चा सौदा झुकने को तैयार नही
आग लगाने का ये कैसा धंधा है
-----------------------------------------------------------------------------
गोहाटी

आग लगी है पूर्वोत्तर की घाटी में
धर्मों के षडयंत्र हमारी माटी में
ब्रह्मपुत्र के बेटों निद्रा को छोडो
बांग्लादेशी है अपनी गोहाटी में
------------------------------------------------------------------------------
तीन-बी

तीन बी जब मिल गये ब्राह्मण बसपा बहन
यू॰ पी॰ में फिर हो गया बाकी सबका दहन
बाकी सबका दहन भले हो राहुल गांधी
बच्चन से भी नहीं चली वोटों की आंधी
कल्याण सिंह भी राम नाम को जाप रहे है
अमर मुलायम माया जी से कांप रहे है
-----------------------------------------------------------------------------
शिल्पा

बालीवुड से हालीवुड की गली गई
सुंदर बाला शिल्पा अपनी छली गई
एडस रोकने को लाई थी गेरे को
एडस फैला कर दिल्ली से क्यों चली गई
------------------------------------------------------------------------------
बच्चन जी

यू॰ पी॰ में ही फिर से आना बच्चन जी
अमर सिंह का साथ निभाना बच्चन जी
निठारी के बच्चें लेकिन कहते हैं
मुलायम को संग में लाना बच्चन जी
------------------------------------------------------------------------------
चैनल धर्म

ऐश्वर्य अभिषेक जहाँ जहाँ भी जायेंगे
टी॰ वी॰ चैनल अपना धर्म निभायेंगे
जूते चप्पल पड़ते हैं तो पड़ जायें,
हनीमून की तस्वीरें भी लायेंगे
-------------------------------------------------------------------------
राहुल जी

अपनी कॉपी खुद ही अब तो जांच रहे हैं राहुल जी
निज पुरखों की गरिमा को ही बांच रहे हैं राहुल जी
अटल बिहारी के शासन में रोड़ बने जो भारत में
अब उन पर क्यूं झूम झूम कर नाच रहे हैं राहुल जी
--------------------------------------------------------------------------
दादा बी

हर दिन कोई राह खोजते दादा बी
पंडों के घर रोज दौडते दादा बी
ऐश की डोली जब तक घर पर ना आई
मंदिर मंदिर हाथ जोडते दादा बी
--------------------------------------------------------------------------
कबूतरबाज

सांसद भी अब हो गये बड़े कबूतरबाज
संकट में है भाजपा बंद हुई आवाज़
बंद हुई आवाज़ चढ़ा नेता का पारा
बुरे फंसे है नेता अपने श्री कटारा
रोज रोज ही संसद में घोटाला होगा
लोकतन्त्र का चेहरा सचमुच काला होगा॥
----------------------------------------------------------------------------
चालान

दिल्ली पुलिस होशियार हैं कटते अब चालान
एक डन्डे से हांकते सबको एक समान
सबको एक समान दुःखी हैं छोरा छोरी
शीशे हो गये साफ हो कैसे जोरा जोरी
कह चेतन कविराय मोबाईल सुनना भारी
कामनवेल्थ खेल की लगता है तैयारी
-----------------------------------------------------------------------------
अपनी दिल्ली

एम॰ सी॰ डी॰ में आ गई भाजप की सरकार
कांग्रेस के सिर पर पड़ी तोड़ फोड़ की मार
तोड़ फोड़ की मार खुराना मुंह लटकाये
हाथी की भी चाल देखकर सब घबराये
कह चेतन कविराय शेर भी लगते बिल्ली
हार गये सब नेता जीती अपनी दिल्ली
------------------------------------------------------------------------------
प्रतिबन्ध

चैपल ने
सचिन को बाउंसर मारा और
सचिन ने पलटकर, चौका
चैपल आउट
वर्ल्ड कप से आउट टीम
की शब्द बोछार पर कह सकता हूँ
खेल में सदभावना की गन्ध हो
कोक पेप्सी के विज्ञापन बन्द हो
देश में सब खेल तब ही आ सकेंगें
क्रिकेट पर दस साल का प्रतिबन्ध हो
----------------------------------------------------------------------------
नेता राम लुभाया

निगम चुनाव के
कारण भाईचारा बढ रहा है,
जो नेता कभी
राम राम भी नहीं करता था
आजकल पांव में
पड रहा है।
कल ही मेरा पडोसी नेता
राम लुभाया
घर आकर बोला क्यूं चेतन भाया
बटन देखकर दबाना और
इस चुनाव में हमको ही जिताना।
मैने कहा - नेता जी
आ रही है पांच अप्रैल की प्रभात
ठीक है आपकी बात परन्तु
क्या इसके बाद भी होगी
आपसे मुलाकात।
मेरे जवाब पर
राम लुभाया परेशान है
क्योंकि सिर्फ पांच अप्रैल
तक ही वोटर उसका
भगवान है॥
----------------------------------------------------------------------------
लोकतन्त्र की दुकान है

आजकल राजा पेट से नहीं
पेटी से बनता है और अब तो
पेटी भी गई आई है और
राजा चुनने के लिये
हमने वोटिंग मशीन बनाई हैं।
चुनाव के अंतिम दौर में
वोटिंग मशीन के लिये
कसरत जारी है तथा
साम, दाम, दण्ड, भेद
सर्वनीति अपनाना
हर प्रत्याशी की लाचारी है।
इस चुनाव से
सामाजिक टूटन बढ़ रही हैं
गुण्डों में मस्ती चढ़ रही हैं
जातिवाद मुंह खोले खडा है और
लोकतन्त्र किसी कोने में पडा है।
ये सब देखकर
आम वोटर परेशान है
आखिर ये कैसी
लोकतन्त्र की दुकान है॥
--------------------------------------------------------------------------
व्यापार तन्त्र

दिल्ली की बडी सी
कालोनी में
छोटा सा झुग्गी कबीला
कबीले में चलती है
रोज वोट लीला
कबीले के छुटभैय्या
नेता के संग
हर पार्टी का
प्रत्याशी आता है और
मदिरा, साईकिल तथा सिलाई मशीन के
लालच दिखाता है
परन्तु कबीले के छुटभैय्या नेता
का बडा ताव है और
हर प्रत्याशी के लिये उसका
अलग अलग भाव है
ये लोकतन्त्र नहीं
व्यापार तन्त्र है और
जिस पार्षद की जेब भारी होगी
उसके पास ही
पार्षद बनने का मन्त्र है
-------------------------------------------------------------------------
निगम कप

जब से भारत
वर्ल्ड कप क्रिकेट से
बाहर आया है
निगम चुनाव में
उत्साह छाया है
क्रिकेट का बुखार
चुनाव अभियान में
कांटे बो रहा था
रात भर क्रिकेट में
डूबा पार्टी कार्यकर्ता
प्रातः चुनाव अभियान के
समय सो रहा था
लगता है निगम उम्मीद्वारों ने ही
मिलकर जोर लगाया है और
भारत को वर्ल्ड कप में हराया है
वर्ल्ड कप तो गया अब
निगम कप का अभियान जारी है
आओ देखें इस बार
किसकी बारी है
--------------------------------------------------------------------------
मास्टर प्लान

कांग्रेस के अजय माकन का
दिल्ली मास्टर प्लान
दिल्ली का हर नागरिक चलेगा अब
सीना तान
ना सिलिंग
ना बुलडोज़र
खुशहाली ही खुशहाली
सब मिलकर बजाओ ताली
अब रोज ही होगी दिवाली पर
इतना रखना ध्यान
हे ! वोटर कृपानिधान
दिल्ली निगम चुनाव में
हाथ का बटन ही दबाना
और एम॰ सी॰ डी॰ में
कांग्रेस को ही लाना
भला हो भगवान
बटन दबाने से ही पूर्व
खुल गई पोल
और कांग्रेसी नेता को अब
सिक्कों से नहीं
वाणी से तोल
ये मास्टर प्लान नहीं
वोट प्लान था
अजय माकन हो या जगमोहन
जनता पर तो हर नेता ने तलवार चलाई हैं
इधर गिरे तो कुआं उधर गिरे तो खाई है
तो हे वोटर
संभल कर बटन दबाओ
और किसी भी नारे के
चक्कर में ना आओ
क्योंकि ये सब प्लान
धोखा है
और 5 अप्रैल ही आपके पास
आखिरी मौका है
------------------------------------------------------------------------
विभीषण

चुनावी दंगल में खूब
मजा आ रहा है
कांग्रेस का कार्यकर्ता
भाजपा के नारे लगा रहा है
भाजपा वाला परेशान है
दिल में खुराना और
चेहरे पर कमल की मुस्कान है
कुछ तथाकथित नेता तो
कर रहे है कमाल
नाश्ता के समय बसपा और
दोपहर भोजन के समय
सपा से कदम ताल
सन्धया समय चौटाला और
रात्रि में शरद पवार के गले में माला
कुल मिलाकर हर दल में
विभीषण है अतः
निगम चुनावी रण भीषण है
-----------------------------------------------------------------------
चुनाव चिन्ह

दिल्ली निगम चुनाव में
कमल कुछ मुस्कुरा रहा है
हाथ घबरा रहा है
हाथी पगलाया है और
खुराना ने चौटाला का
ऐनक लगाया है
मुलायम की साईकिल रफ्तार मंद है तथा
शरद पवार की घडी बन्द है
निर्दलीय ताल ठोक रहे हैं और
सब एक दूजे को यूं बोल रहे हैं
प्राणों से भी प्यारा है
दिल्ली निगम हमारा है
खटका जरा दबा देना
गूंज रहा ये नारा है
------------------------------------------------------------------------
चुनाव प्रचार

नवरात्र के कारण
चुनाव प्रचार चल रहा है
फीका – फीका
किसी भी दल के किसी कार्यकर्ता में
कोई उत्साह नहीं दीखा
अब दुर्गा अष्टमी के बाद
चुनावी भैरूं की बारी है तथा
मदिरा का प्रसाद चढाना
लोकतन्त्र में
हर प्रत्याशी की
लाचारी है
प्रसाद चढाओ या
करो पूजा
लेकिन
जब तक वोटर देवता नहीं पसीजा
परिश्रम बेकार है आओ देखें
इस बार
दिल्ली नगर निगम में
किसकी सरकार है।
----------------------------------------------------------------------
पार्षद

परीक्षा में सवाल पूछा
पार्षद के लिये योग्यता बताओ
दिल्ली के विद्यार्थी ने लिखा
लोकतन्त्र की मजबूरी है अतः
पार्षद बनने के लिये
बडे नेता का बेटा, पत्नी,
सचिव या चमचा होना
बहुत जरूरी है,
बालक के इस जवाब पर कह सकता हूँ
निगम पार्षद नोट कमाता
एम॰ एल॰ ए॰ विश्वास गवाता
सांसद अपना शर्मिन्दा है
लोकतन्त्र फिर भी जिन्दा है।
--------------------------------------------------------------------
टिकट वितरण

दिल्ली के निगम चुनाव का
सेमीफाइनल यानी टिकटों का वितरण
वित्त का रण ही रहा
कम शब्दों में
वित्त कि जीत
विचार की हार, चाहे
विपक्ष हो या सरकार
आम कार्यकर्ता यानी ग्रासरुटर
दरी बिछाता रहा और
पैराशूटर अपने आकाओं का
आशीर्वाद पाता रहा
इस दृश्य पर यही कह सकता हूँ
भ्रष्टाचारी बेल हमारी दिल्ली में
चोर चोर का मेल हमारी दिल्ली में
भूमाफ़िया नेता के संग मिल बैठा
सता का ये खेल हमारी दिल्ली में
---------------------------------------------------------------------
क्रिकेट बुखार

क्रिकेट
उन देशों में छाया है
जहाँ अंग्रेजो ने डन्डा बजाया है
अमरीका, चीन जापान
कहीं नही गूंजती क्रिकेट की तान
ये सब खेल जगत के हीरो हैं
पर हम क्रिकेट को छोड
सब खेलो में जीरो हैं
वर्ल्ड कप के युद्ध पर
यही कह सकता हूँ -
ये कैसा त्यौहार हमारे भारत में
कैसी मारामार हमारे भारत में
सब खेलों को लील गया क्रिकेट बल्ला
क्रिकेट का बुखार हमारे भारत में
------------------------------------------------------------------
खूनी होली

होली के दिन
झारखंड में
हिंसा का ताण्डव
देखकर लगता है
नक्सलवाद की जड़
भारत में गहरी है
और उसके सामने
लोकतांत्रिक सरकार बहरी है
सांसद सुनील महतो की
हत्या पर यहीं कह सकता हूं
आतंकी सरकार साथियों भारत में
कदम कदम पर हार साथियों भारत में
सांसद महतो की हत्या पर सब चुप हैं
ये कैसा त्यौहार साथियों भारत में
-----------------------------------------------------------------
टिकटोत्सव

दिल्ली में आजकल
बसन्त उत्सव नही अपितु
टिकटोत्सव की बहार है और
पार्क के बजाय
हर नेता के दरवाजे
लम्बी लम्बी कतार है
टिकट प्रेमियों के हाथ
फूल-पत्र नही
बायोडाटा प्रोफाईल है और
हर टिकटार्थी
स्वयंभू सन्त वेलेंटाइन है
एक सन्त ने दूजे से कहा
हर दिन उपकार करता हूँ
जनता से प्यार करता हूँ
टिकट जो मिल जाये तो
हर वादा स्वीकार करता हूँ
--------------------------------------------------------------------
वेलेंटाइन

तीसरी शताब्दी के
सन्त वेलेंटाइन
प्रेम के लिये शहीद हो गये
सन्त ने कहा कि
प्यार कर और भारत में भी
पाँच हजार साल पूर्व श्री कृष्ण ने कहा
प्यार कर अतः
कृष्ण के देश को
सन्त वेलेंटाइन से कैसा डर
परन्तु भारत में
वेलेंटाइन डे के नाम पर जो
तथाकथित प्रदर्शन होता है
उसके लिये यहीं कह सकता हूँ
प्रेमी जोडा पार्क में और
मौसम फाईन
बोल रहे हैं एक दूजे को
वेलेंटाइन वेलेंटाइन
---------------------------------------------------------------
आतंक की राजधानी

पाकिस्तानी आतंकवादी का
बांग्लादेश के रास्ते
दिल्ली आना तथा
वारदात करने से पूर्व पकडा जाना
दिल्ली में आतंकियों की मनमानी हैं
लगता है दिल्ली भारत की नहीं
आतंक की राजधानी है ।
संसद हो या
मिन्टो रोड
दिन हो या रात
पुलिस करती रही
आतंकियो से दो-दो हाथ
पुलिस को बधाई ।
भारत में किन्नर समुदाय भी
अपना राष्ट्रधर्म निभाता है
तथा अपने अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में
पाकिस्तान को छोड
सभी पडोसी देशों
को बुलाता है ।
समय आ गया
हमारे नेतागण भी
अपना राष्ट्रधर्म जानें तथा
दोस्त को दोस्त व
दुश्मन को दुश्मन मानें
------------------------------------------------------------------
कोरस

लंदन में
शिल्पा को
तंग करने का बदला
रतन टाटा ने लिया तथा
कोरस की नीलामी पर
अंग्रेजो को घायल किया
भारत की इस जीत पर
कह सकता हूँ
दुनिया भर में फैल गया सन्नाटा है
हर दादा के मुँह पर अपना चाटा है
लंदन की गलियों में अब ये गूंज रहा
कोरस का मालिक भारत का टाटा है।
---------------------------------------------------------------------
गण्तन्त्र

गणतन्त्र या रिपब्लिक
प्रजातन्त्र या लोकतन्त्र
मतलब साफ है,
अब राजाओं का नही
जनता का राज है, परन्तु
जनता का अपने ही तन्त्र पर
क्रोध बढ़ता जा रहा है और
मतदान का प्रतिशत
लगातार घटता जा रहा है।
जाति धर्म को नही
देश को करें मतदान, और
सब मिलकर कहें
हमारा गण्तन्त्र महान।
---------------------------------------------------------------------
बिग ब्रदर

यू॰के में
बिग ब्रदर शो मे
भाईचारा नही अपितु
घृणा का बोलबाला है
अत: रंगभेदी टिप्पणी के
कारण घायल अपनी
शिल्पा बाला है
वास्तव में
भारत ही है दुनिया का
बिग ब्रदर
अत: गांधी के भारत को
इन छोटी मानसिकता वालों से
कैसा डर
शिल्पा को ये ही सुझाव है –
आंसू नही बहाने होंगे
गीत प्यार के गाने होंगे
ये जो हम से घृणा करते
भारत के दीवाने होंगे
-------------------------------------------------------------------
असम

उल्फा द्वारा
असम के
हिन्दी भाषियों पर हमला , मतलब
राष्ट्र की एकता अखंडता पर प्रहार
राष्ट्र भाषा का बहिष्कार
व लोकतंत्र का तिरस्कार है
काश आज सरदार के बजाय होते
सरदार पटेल, तो नही चलता
ये आंतकियों का खेल
केंद्र व असम की सरकार जागे
और देखें कि हिन्दी भाषी
असम से न भागें ।
राष्ट्र की एकता अखंडता का
ढोल पीटने वाले नेता
मौन हैं
आखिर उल्फा के पीछे
कौन हैं ?
--------------------------------------------------------------------
निठारी

हिन्दी सिनेमा के
महानायक को
उत्तरप्रदेश की तरक्की
इतनी प्यारी है कि
अब अगला जन्म भी
यू॰ पी॰ में लेने की तैयारी है
कामना अच्छी है
सच्ची है परन्तु
निठारी काण्ड देखकर भी यदि
आपका है ये विचार
तो हमें लगता है
आपको यू॰ पी॰ के बजाय
मुलायम और अमर सिंह
से ही है प्यार
अमिताभ जी !
हो सके तो
इस जन्म में
एक बार निठारी आओ
तथा मासूम बच्चो की वेदना पर
एक फिल्म बनाओ
ये फिल्म जब दिखाई जायेगी तो
मासूम बच्चो की आत्मा
आपका गुण गायेगी
विज्ञापन को छोड़ अनुशासन में आओ
स्वार्थ छोड़ मानव धर्म निभाओ
यदि आपने मेरा
ये प्रस्ताव किया स्वीकार
तो सारे भारत में होगी
आपकी जयजयकार।
-------------------------------------------------------------------
नववर्ष

नटवर का तेल
शिबु सोरेन को जेल
अफजल से डिलिंग
दिल्ली में सिलिंग
प्रिंस का होल
खुराना जी के बोल
अभिषेक का यशभारती और
ऐश्वर्य की आरती
राखी जैसी मिस
मिक्का जैसा किस
मुंबई के विस्फोट और
महाजन परिवार पर चोट
बाबा रामदेव का ज्ञान तथा
सिद्धु की मुस्कान
बिस्मिल्लाह का जाना और
सौरभ गांगुली का आना
ये लम्हे रहेंगे यादगार
2006 को सादर नमस्कार
आशा और विश्वास लिये
नव बर्ष खड़ा है द्वार
आओ करें मिलकर अभिनन्दन सत्कार
नववर्ष के स्वागत में करें
चीयर-चीयर-चीयर
आप सब पाठको को
हैप्पी न्यू ईयर—
-----------------------------------------------------------------------
माया मिली ना राम

हिन्दी अध्यापक ने किया सवाल
माया मिली ना राम मुहावरे का
वाक्य मे प्रयोग करो
त्रिनगर के एक छात्र ने हाथ उठाया और
अध्यापक के कहने पर बताया
हमारे एक पार्षद ने
एक महिला के प्यार के चक्कर मे
जान गवाई और
उनकी महिला मित्र ने कुर्सी के चक्कर मे
जेल की हवा खाई
अतः इस घटना के साथ बहता हूँ
और एक नया दोहा कहता हूँ
प्यार व्यार कुछ था नही, ये तो था बस काम
गुरू जी इसको ही कहें, माया मिली ना राम
-------------------------------------------------------------------
अफजल

लोकतंत्र की जाने क्या मजबूरी है
हत्यारें की फांसी से क्यूं दूरी है
अफजल से जो प्यार कर रहे भारत में
उनका फांसी चढना बहुत जरूरी है
---------------------------------------------------------------------
शंकर रूप मनमोहन

पासवान चाँद है
शिबु साँप है
शरद पवार नन्दी है
मयावती आपके प्यार की बंदी है
करूणानिधि मृगछाला है
अमर सिंह जहर का प्याला है
मुलायम तीसरा नेत्र है
मुशर्रफ आपका मित्र है
लालू जी आपका त्रिशूल है और
आपसे टकराना भाजपा की भूल है
------------------------------------------------------------------
सद्दाम

काहे दुनिया मचा रही कोहराम है
वही सिकंदर जिसके कर में दाम है
ओसामा तो हाथ ना आया क्या करते
चढा दिया फ़ांसी ऊपर सद्दाम है
-----------------------------------------------------------------
एस. एम. एस.

एस. एम. एस.
यानि सरदार मनमोहन सिंह
या कह सकते हैं- संकट में सांस
अर्जुन सिंह के भगवाकरण पर किताबी तीर
अमरिन्दर सिंह का सतलज नीर
आन्ध्रा का मुस्लिम आरक्षण
लालू का गोधरा सर्वेक्षण
सबकी अपनी अपनी दुकान है
देश जाये भाड में
सरदार जी इनसे परेशान है
सोनिया व साम्यवादियों से आग्रह है
डुगडुगी बजाओ
अपने इन बंदरो को समझाओ
और मनमोहन सिंह के साथ मिलकर
देश को बचाओ
-----------------------------------------------------------------------
लालूवाद

परिवारवाद के जाने की तैयारी हैं
क्योंकी लालूवाद सब पर षरी हैं
भाई-भतीजावाद से बचने की
देखिये कैसी है कला
बीबी मुख्यमंत्री और
साला संसद को चला
दूसरा राज्यसभा के लिये तैयार हैं
और तीसरे को कुर्सी का इन्तजार हैं
बीबी से प्यार के मामले में
शाहजंहा भी शर्माते हैं
जब लालू को अपने से आगे पाते हैं
शाहजंहा ने तो केवल ताजमहल बनवाया
लालू ने ताज ही बीबी को चढाया
145 सीट वाली काग्रेंस
21 सीट वाली राजद से इस लिये घबराती हैं
क्योंकी काग्रेंस तो केवल राजीव की बीबी चलाती हैं
हाँ! अगर काग्रेंस में राजीव के साले भी आते
तब लालू यादव कैसे ऑंख दिखाते?
फिर भी लालू रहे सदैव
ईमानदार और स्वछंद
जिस जेल का उद्धाटन किया उसी में रहे बंद
अच्छा होता लालू जी से किसी
श्मशान घाट का उद्धाटन करवाया जाता
कम से कम एक से तो
भारत निजात पाता
फिलहाल लालू जी की शान हैं
क्योंकी वो महान हैं
जेल से रेल, राबडी से चारा
हुल्लड से कुल्हड
लालू की कहानी हैं
क्योंकी लालू ही सच्चा “हिन्दुस्तानी” हैं।
----------------------------------------------------------------------
संविधान का मंदिर

यू. पी. ए. सरकार ने
चार राज्यपालों को हटाया
बधाई!
आखिर देर ही से सही
काग्रेंस को अकल तो आई
साम्प्रदायिक शक्तियों पर की है
करारी चोट
इस कारण ही तो जनता ने दिये थे
आपको वोट
अब कम से कम चार राज्यों में
साम्प्रदायिक सदभाव बना रहेगा, और
काग्रेंस का झन्डा तना रहेगा
हमने गृह मंत्री से पूछा
खुराना जी को जीवन दान? समझ नही आया
उन्होने तुरन्त कहा
यह सब है शीला दीक्षित जी की माया
दिल्ली मे बना रहे काग्रेंस का झन्डा
इस कारण खुराना जी घुमाते रहेगें
जयपुर में डन्डा
राष्ट्रपति जी!
राजभवनों को सत्ता के गलियारों से बचाओं
और हो सके तो
संविधान का पावन मंदिर बनाओं
------------------------------------------------------------------------
बजट

लालू, चिदंबरम, मोहन जी सरदार
बजट बनाया है शानदार
एक लाख आयकर सीमा के लिये
धन्यवाद करें, स्वीकार
काश! जसवन्त-यशवन्त भी सुन पाते
जनता की पुकार, तो
एन. डी. ए. की नही होती बुरी हार, पर
बिहार के मामले में किया हैं घोटाला
सत्तापक्ष के मुंह पर लगा हैं ताला
बिहार पैकेज को पुन: देकर
ताली पिटवा रहे हैं
यानि कविता अटल जी की
अपने नाम से गा रहे हैं
फिलहाल, वोट बैंक के लिये
सरकारी खजाने की
बंदरबाट जारी है
प्रधानमंत्री कोई भी हो
जनता तो बेचारी है
-------------------------------------------------------------------
भारत-पाक

हमने अग्नि मिसाईल बनाई
उसने भी गौरी उडाई
हमने किये पाँच परमाणु टेस्ट
उसने भी किये छ: परमाणु वेस्ट
हमने क्रिकेट में वर्ल्ड कप जीता
उसने भी जीता
हमने वर्ल्ड कप हारा
उसने भी हारा
हमने कठपुतली मार्का
एक अर्थशास्त्री को प्रधानमंत्री बनाया
उसने भी तुरन्त जमाली को हटाया, और
अब मनमोहन सिंह मार्का
एक अर्थशास्त्री की खोज जारी है
देखें किसकी बारी है?
काश ! पाक लोकतन्त्र स्थापना में
भारत की परम्परा निभाता
आंतकवादियों को अपने यहाँ से भगाता
तो दुनिया में भारत-पाक मैत्री का
एक नया इतिहास लिखा जाता
-----------------------------------------------------------------
राखी सावंत

एक ओर कानफाडू मीका तथा
दूसरी ओर आयटम गर्ल राखी सावंत
दोनो में हो गई भिडंत
क्या करती बेचारी मिस
जब मीका ने जनता के बीच
कर दिया किस
राखी जी !
बर्थडे को बर्थडे-बॉय का करते हैं सम्मान
अतः इतना तो रखते ध्यान कि
शीशे के घरों में रहने वाले
दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकते
फिर भी आप एक सूत्र अपनायें
कुछ राखियां घर से
पर्स में लेकर जायें
जब भी कोई निगाहें उठाये
तुरंत उसके साथ रक्षाबन्धन मनायें।
अरे! आपका नाम ही है बडा महान
जिसमें है सब समस्यों का समाधान।
------------------------------------------------------------------
वफादारी

जैसे ही खुला प्रवीण महाजन के
मुँह का ताला
बोला प्रमोद ने मुझे कुत्ते की
तरह पाला
ये सुन मेरी गली का कुत्ता भौंका तो
मैं चौंका
कुत्ता बोला, ये तो है
हम कुत्तों का अपमान
आप ही बताओ
हमने कब अपने मालिक को काटा, श्रीमान
हमारी वफादारी तो जग विख्यात है
अपने को काटना ये तो
मनुष्य का स्वभाव है
कुत्ते के तर्क पर
मैं मौन था, आखिर
इस हमले के पीछे कौन था?
-------------------------------------------------------
शाकाहार

1857 के क्रांति नायक
मंगल पाण्डेय पर
करता है हर हिन्दुस्तानी नाज
क्योंकि उसकी ही बन्दुक से
निकली थी
सबसे पहले आजादी की आवाज।
अंग्रेजों के विरुद्ध
मंगल पाण्डेय की उंगली
बन्दुक के घोडे पर, क्योंकि
गाय चर्बी के कारतूस नहीं थे स्वीकार
और यही था शाकाहार का चमत्कार
महावीर का शाकाहार
बन गया था आजादी का मन्त्र
और इसी मन्त्र के कारण हो गया
अपना भारत स्वतन्त्र।
--------------------------------------------------------------------
मनमोहन सरकार

मनमोहन सरकार आपकी जय होवे
कर दिया बंटाधार आपकी जय होवे

नटवर जी ने कैसा रास रचाया था
सद्दाम बना जब यार आपकी जय होवे

मंत्री जी अब हवलदार को डांट रहे
जे॰ पी॰ हुये फरार आपकी जय होवे

जगह जगह विस्फोट हो गये दिल्ली में
दीवाली त्यौहार आपकी जय होवे

घाटी के ये बम धमाके बोल रहें
गुलाम हुये सरदार आपकी जय होवे
--------------------------------------------------------------
हैप्पी ब्रदर्स डे

सभा, सत्संग, सोसाईटी
क्लब हो या किटी पार्टी
समाजिक दायरा बढ़ रहा है परन्तु
बन्धु भाव घट रहा है।
रक्षाबन्धन सिस्टर्स डे और
करवा चौथ हसबैन्ड डे के रूप में
मनाने वाली पीढ़ी का प्रयास है सच्चा
काश! दीवाली को ब्रदर्स डे के रूप में
मनाते तो होता कितना अच्छा।
वास्तव में चौदह वर्षों से
भाई की प्रतीक्षा में व्याकुल
राम-भरत का मिलन ही दीवाली त्यौहार है
और भाई-भाई के प्यार से ही
समाज में आपकी जय-जयकार है
हैप्पी ब्रदर्स डे
--------------------------------------------------------------------
दीवाली

गलत कहते है लोग कि
दिया जलता है
ना दिया जलता है ना बाती
काश! ये बात
हमारी समझ में आती कि
तेल मैत्री धर्म निभाता है और
बाती को बचाने
स्वयं को जलाता है
आईये राम व सुग्रीव सा
मैत्री भाव जगायें
असत्य की लंका जलायें
सत्य का डंका बजायें
दीवाली की हार्दिक शुभकामनायें
---------------------------------------------------------------
वनवास

बिहार राम लीला के मंच पर
राष्ट्र माँ ने कैकई
रेल माँ ने मंथरा तथा
परमाणु पिता ने दशरथ का
रोल निभाया तब कहीं
जाकर लोकतन्त्र के राम को
वनवास हो पाया
अब भरत सिर पर खडाऊं नहीं
अहंकार की पगड़ी लगाये बैठा है
न्याय का तराजू लिये
विश्वामित्र मौन है
आखिर इस वनवास के पीछे
कौन है?
---------------------------------------------------------------------
लक्ष्मण मूर्छा

चुनाव युद्ध में
घायल लक्ष्मण के लिये
संजीवन बूंटी खोजते खोजते
हनुमान जी का हिमालय की बजाय
पाकिस्तान जाना और
वहाँ जिन्ना के जिन्न से टकराना
ये घटना लक्ष्मण को
वेन्टीलेटर पर लिटा गई
गये थे लक्ष्मण की मूर्छा तोड़ने पर
हनुमान जी को स्वयं ही मूर्छा आ गई
रामादल में भरत हनुमान पर चिल्ला रहे है
राम अपने ही घुटने सहला रहे है
लक्ष्मण की मूर्छा तोड़ने
लंका का वैद्य नहीं
झन्डेवाला से डाक्टरों का दल आया है पर
लक्ष्मण को अभी तक होश नहीं आया है
वास्तव में, हनुमान और डाक्टर गलत जानते है
जो संजीवन बूंटी को मूर्छा का इलाज मानते है
आजकल लक्ष्मण का इलाज
बूंटी नहीं वोट है, तो
हे हनुमान जी
पाकिस्तान को छोड़
हिन्दुस्तान की जनता के पास जाओ और
लक्ष्मण की मूर्छा का इलाज कराओ।
----------------------------------------------------------------
जिन्ना

पाकिस्तानी जिन्ना
कब्र से निकलकर अडवाणी के सिर चढ़े हैं
जिन्दा रहे तो देश को बांटा और
मर गये तो
भाजपा के पीछे पड़े हैं
अडवाणी जी को
क्या जरुरत थी जन्म भूमि जाने की
कब्र में बैठे जिन्ना से हाथ मिलाने की
अच्छा होता!
पाकिस्तानी जिन्ना के बजाय
आप भारत के महान जिन्नाओं को
अपने घर बुलाते
लालू-पासवान को गले लगाते
सोनिया को समझाते
कम्युनिस्टों के गुण गाते तो
दिल्ली सिंहासन पर
मनमोहन सिंह नहीं
आप नजर आते
---------------------------------------------------------------------
इन्द्र देव

कभी
कृष्ण की प्रतिष्ठा से
घबराकर इन्द्र देव बृज में बरसे
फिर मुंबई की
बार अप्सराओं के
नृत्य बन्द करने पर क्रोध आया
और आजकल
खुराना के आंसुओं से
इन्द्र देव घबराये है, इसलिये
जमकर बरसने
दिल्ली आये हैं।
---------------------------------------------------------------------
आसाम

आसाम कांग्रेस के
वोट सौदागर
सिंहासन को मजबूत बनाते रहे और
बांग्लादेशियों को बुलाते रहे।
“अल्पसंख्यकों पर अत्याचार”
एक लुभावना नारा है
जिसको कांग्रेस ने
सदा उछाला है।
सुप्रीम कोर्ट के शानदार निर्णय पर
कांग्रेस में छाया क्रंदन
न्यायपालिका को वंदन
आसाम जन का अभिनंदन।
-------------------------------------------------------------------
पुणे

पुणे यानी
उत्सव की बहार
आत्मा का श्रृंगार
जीवन का गीत
मन का संगीत
ओशो की वाणी और
प्यार की कहानी है, इसलिये
पुणे विश्व की राजधानी है।
---------------------------------------------------------------------
आपातकाल

कुर्सी जिसको प्यारी थी
वो एक अडियल नारी थी

लोकतंत्र को फूंक दिया
जाने क्या लाचारी थी

पत्रकार भी क्या लिखते
कलम हुई दरबारी थी

कोई अपील दलील नहीं
हिटलरशाही जारी थी

जयप्रकाश का बिगुल बजा
धधक उठी चिंगारी थी

सिहांसन को पाने की
जनता की तैयारी थी

अंधियारा छटना ही था
उजियारे की बारी थी

जन आंदोलन के आगे
तानाशाही हारी थी
-------------------------------------------------------------------
शांति वार्ता

बिना भारतीय पासपोर्ट के
हुर्रियत नेताओं का पाकिस्तान जाना
पुलवामा में आतंकवादियों द्वारा
निर्दोषों को मारा जाना।
लगता है भारत-पाक
शांति प्रक्रिया अटक गई है और
मनमोहन सरकार भी
पाक दोस्ती की रास्तों में
कहीं भटक गई है।
सोनिया-मनमोहन जी
हुर्रियत आतंकियों के आगे
पूंछ मत हिलाओ
राष्ट्र के स्वाभिमान को बचाओ और
सही रास्ते पर शांति प्रक्रिया चलाओ।
----------------------------------------------------------------
सांई जी

सेकुलर महान हमारे सांई जी
रंग बिरंगी शान हमारे सांई जी

अवधपुरी के ढांचे को रोते हैं पर
खिली हुई मुस्कान हमारे सांई जी

पी एम की कुर्सी का सपना ऑंखो में
जिन्ना पर कुरबान हमारे सांई जी

नया रूप और रंग कराची में देखा
मुस्लमान हैरान हमारे सांई जी

घर की आग संभालोगे तो जानेगें
तब होगा सम्मान हमारे सांई जी
-----------------------------------------------------------------
सोनिया जी

काग्रेंस की प्रधान हमारी सोनिया जी
यू पी ए की जान हमारी सोनिया जी

मनमोहन जी प्रधानमंत्री बेशक हैं
बनी देश कप्तान हमारी सोनिया जी

राहुल गांधी और प्रियंका की मम्मी
‘रॉयल मदर’ महान हमारी सोनिया जी

इटली वाली बातों को अब छोड मियां
भारत की पहचान हमारी सोनिया जी

काग्रेंसी श्रद्धा से चरणों में लेटे
है उनकी भगवान हमारी सोनिया जी
---------------------------------------------------------------------
बूटा सिंह

गुरू परम्परा महान है
गुरू पुत्रो का विशेष स्थान है।
सरदार मनमोहन सिंह ने
गुरू ज्ञान को अपनाया और
अपनी सादगी और ईमानदारी का परचम
भारत में लहराया,
अब सरदार बूटा सिंह
इस परम्परा पर कालिख पोत रहे है
राज्यपाल के बजाय
सोनिया, लालू और
कम्युनिस्टों की कठपुतली बनकर
लोकतन्त्र के सीने में
चाकू घोंप रहे हैं।
बिहार हो या झारखंड
सिबते रजी हो या बूटा सिंह
ये सब राज्यपाल नही
पार्टी के ताज है और
आजकल भारत में
लगता है लोकतन्त्र का नही
न्यायालय का राज है।
-------------------------------------------------------------------
एक वर्ष

प्रकाश कारत व
वामपंथी बन्द कमरे में बैठकर
यू पी ए सरकार चला रहे हैं और
लड़ाई का नाटक करके
जनता को बेवकूफ बना रहे हैं।
लालू की अपनी दुकान हैं ओर
मायावती परेशान है
पासवान भारी है व
झारखंडी बाबा के भागने की तैयारी है।
कुल मिला के उत्तम है
एक वर्ष की यू पी ए सरकार
बधाई हें मनमोहन सरदार
सोनिया का आभार और
यू पी ए की जयजयकार
--------------------------------------------------------------------
बबाल

एक अनार सौ बीमार
कहावत मशहूर है परन्तु ये
लालू जी से दूर है।
लालू जी के लिये कहना होगा
एक बीमार सौ अनार
चारा घोटाला
आयकर मामले को टाला
रेल दुर्घटना
धायल पटना
जानलेवा हमले का बहाना और
बिना बहुमत सरकार बनाना
लालू का कमाल है और सच में
लालू कोई नेता नही
यू पी ए के लिये एक बबाल है।
सोनिया जी अपना फर्ज निभाओ और
लालू जी से इस देश को बचाओ।
-----------------------------------------------------------------
मुख्यमंत्री हुड्डा

विधायक नही
मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा
गाड़ दिया हरियाणा में खूंटा
लोकतन्त्र का कैसा है सम्मान?
विधायक चुनें जनता और
मुख्यमंत्री हाईकमान।
विमान दुर्घटना में
दो मंत्रियों का जाना
सुप्रीम कोर्ट के नोटिस से
मुख्यमंत्री को पसीना आना,
प्रचंड बहुमत के बाद भी
काग्रेंस सरकार पर
संकट के बादल छाये हैं और
हरियाणा के काग्रेंसी नेता
कुछ घबराये हैं।
जन प्रतिनिधियों आगे आओ
अपनी सरकार को बचाओ और
किसी एम.एल.ए. को ही मुख्यमंत्री बनाओ।
------------------------------------------------------------------------
खालसा-वामपंथ

गुरू पुत्र
सरदार मनमोहन जी
वामपंथियों के सम्मुख
घुटने टेक रहे हैं और
हिन्दु देश नेपाल को बचाने
सेना नही भेज रहे हैं।
कभी गुरू गोबिन्द सिंह जी ने
हिन्दु की रक्षा के लिये बनाया था
खालसा पंथ और
आज हिन्दु संहार के लिये बना है
वामपंथ।
यूपीए का चमत्कार
पाकिस्तानी तानाशाही स्वीकार और
नेपाली राजतन्त्र को धिक्कार
लख लख बधाई
मोहन जी की सरकार।
------------------------------------------------------------------------
मुशर्रफ

जरनल तेरा भारत आना अच्छा है
ख्वाजा जी को शीश झुकाना अच्छा है

बेशक क्रिकेट ने तो दिल को जोडा है
क्या हुर्रियत से हाथ मिलाना अच्छा है?

मनमोहन मैडम से मिलना ठीक मगर
अटल बिहारी के घर जाना अच्छा है

अमरीकी हथियारों की सौदेबाजी
फिर भी गीत अमन के गाना अच्छा है

काश्मीर पर खूब सियासत करते हो
क्या घाटी में आग लगाना अच्छा है?
------------------------------------------------------------------
सुदर्शन चक्र

सुदर्शन जी ने
सुदर्शन चक्र चलाया और
अटल जी ने अडवाणी जी को समझाया
उम्र की मजबूरी है और
आप दोनो का
सन्यास लेना बहुत जरूरी है।
भाजपा अब परेशान है क्योंकी
अटल-अडवाणी ही महान है
नई पीढ़ी में मारामार है क्योंकि
युवराज के लिये
लम्बी कतार है।
-------------------------------------------------------------------
भाजपा

भाजपा के
पच्चीस साल और
राम मंदिर का सवाल।
अडवाणी जी की रथ सवारी
अटल जी को कुर्सी प्यारी तो
क्या करेगी विहिप बेचारी?
सेकुलर राजग में
वचन निभाते निभाते
क्या खोया - क्या पाया
करें गम्भीर विचार, तभी होगा
रजत जयन्ती का सपना साकार।
--------------------------------------------------------------------
नव सम्वत्सर

खेत और खलिहानों ने गीत नया गाया है
भारत मे देखो नव सम्वत्सर आया है

वासंती मौसम है , ईश्वर की माया है
भारत मे देखो नव सम्वत्सर आया है

हमने बही खातों को फिर से सजाया है
भारत मे देखो नव सम्वत्सर आया है

छात्रों को पाढ़ नया गुरू ने सिखाया है
भारत मे देखो नव सम्वत्सर आया है

दुर्गा के भक्तों ने शंख फिर गुँजाया है
भारत मे देखो नव सम्वत्सर आया है
-----------------------------------------------------------------
होली

मचा हुआ हुडदंग साथियों होली में
नेता हैं बदरंग साथियो होली में

दुनिया का दादा अमरीका होता है
मोदी जी से तंग साथियो होली में

आतंकवादियों ने घायल नेपाल किया
माओवादी जंग साथियो होली में

युद्ध नही अब क्रिकेट से ये लगता है
पाक हमारे संग साथियो होली में
-----------------------------------------------------------------
भारत में

सत्ता का हुडदंग हमारे भारत में
नेताओं की जंग हमारे भारत में

हरियाणा में भजनलाल गिरगिट जैसे
बदल रहे हैं रंग हमारे भारत में

झारखंड में संविधान को फूंक दिया
राज्यपाल बदरंग हमारे भारत में

पासवान ने तोड दिया गठबंधन को
लालू मैडम संग हमारे भारत में

बाहुबलियों ने संसद को घेरा है
है कुंए में जंग हमारे भारत में
-------------------------------------------------------------------
गठबन्धन

चिदंबरम का बजट
वोटर को रिझाता है क्योंकि
बिहार-झारखंड चुनाव के बाद
यू पी ए गठबन्धन
संकट में नजर आता है।
सोनिया हो या शिबु
लालू हो या पासवान
सबके लिये कुर्सी महान।
लोकतन्त्र के लिये गठबन्धन
एक नाजायज भाईचारा है क्योंकि
जनता ने तो सबको ही नकारा है।
चुनाव में तलवार
सरकार में प्यार
गठबन्धन की जय जयकार।
------------------------------------------------------------------
पाक रिश्ते

कश्मीर में बर्फ
पाक से रिश्तों में गरमाहट
क्रिकेट का कमाल
बस यात्रा का बबाल।
वाजपेयी भी जब
पाक रिश्तों की पिच पर
हो गये आऊट तो
मनमोहन जी हम आप पर
क्यों ना करें डाऊट।
अर्थशास्त्री जी
पड़ोसी को रिश्तों का अर्थ समझाओ।
अगर पाक नापाक हरकतें छोड
मानव धर्म निभायेगा तो
मध्य एशिया में
शांति का एक नया युग आयेगा।
------------------------------------------------------------------
दिल्ली

राजधानी दिल्ली
कोई शहर नही
कंकरीट का जंगल है और
बढ़ती आबादी का दंगल है।
मुख्यमंत्री को बधाई
समस्या समझ तो आई।
वोट का मोह छोड़
मिलकर करें समस्या समाधान तभी
हम कह सकेगें
मेरी दिल्ली मेरी शान।
------------------------------------------------------------------
नेपाल

तिब्बत के बाद
लाल झन्डा लेकर
चीन का माओवादियों के वेश में
नेपाल आना।
पाकिस्तान द्वारा
षड्यंत्र करके
शाही परिवार की हत्या करवाना।
प्रजातन्त्र की हत्या के नाम पर
भारत का घडियाली आंसू टपकाना,
पडोसी पर संकट
आपकी चुप्पी और लाचारी, तो
कल होगी आपकी बारी।
पशुपति नाथ शंकर हो या
मिथिला की सीता
रामायण हो या गीता,
नेपाल भारत और
भारत नेपाल है
समझ नही आता भारत में
राजनीति का ये कैसा मायाजाल है?
मनमोहन जी!
नेपाल की पीडा जानों और
हिन्दु देश नेपाल को
अपना भाई मानो।
----------------------------------------------------------------
तीस जनवरी

गांधी को किसने मारा?
बहस जारी है
अर्जुन सिंह के अभारी हैं,
भले ही अदालत ने
उनको जमानत पर छोड दिया परन्तु
मुद्दा एक नई दिशा में मोड दिया।
गांधी को मारा हत्यारों ने
गांधीवाद को मारा गांधी के प्यारों ने
सत्य अंहिसा का आचार
स्वदेशी का विचार
गौमाता से प्यार
हिन्दी का संस्कार
भारत से कोसो दूर है
गांधीवाद कितना मजबूर है।
अर्जुन जी! भले ही
गांधी हत्यारों को
फांसी पर लटकाओ परन्तु
गांधीवाद के हत्यारों को भी तो निपटाओ।
-----------------------------------------------------------------
परवीन बॉबी

कहते हैं
सितारों के आगे भी जहाँ हैं, पर
किसने देखा?
अजब है ये फिल्म सितारों का लेखा
कभी सफलता का खुला आकाश
तो कभी अपमान का एकान्त वास।
परवीन बॉबी की फिल्म देख
झूमने वाला हर दर्शक
इस मौत पर खामोश है
आखिर ये किसका दोष है?
जब सितारों का ये हाल है तो
आम आदमी तो बेहाल है पर
आम आदमी के साथ खडा है
एक छोटा सा परिवार अत:
ये गुमनामी की मौत
उसे नही स्वीकार।
कोटि कोटि
प्रशंसकों के होते
अंतिम यात्रा पर
परवीन चुपचाप चली
हार्दिक श्रद्धांजलि।
-----------------------------------------------------------------
गणतंत्र

गणतन्त्र या रिपब्लिक
प्रजातन्त्र या लोकतन्त्र
मतलब साफ है,
अब राजाओं का नही
जनता का राज है, परन्तु
जनता का अपने ही तन्त्र पर
क्रोध बढ़ता जा रहा है और
मतदान का प्रतिशत
लगातार घटता जा रहा है।
जाति धर्म को नही
देश को करें मतदान, और
सब मिलकर कहें
हमारा गण्तन्त्र महान।
------------------------------------------------------------------
अम्मा

जयेन्द्र सरस्वती को बेल
विजेयन्द्र सरस्वती को जेल
कैसा है? अम्मा का खेल
आखिर अम्मा है
तमिलनाडू की राजा
बजा सकती है
सुप्रीम कोर्ट का भी बाजा।
कांची पीठ में
पूजा के समय
पुलिस की कदम ताल
धर्म का अपमान है
कैसे कहें कि
मेरा भारत महान है।
--------------------------------------------------------------------
सुनामी और भारत

प्रधानमंत्री ने कहा
विदेश से दान नही
मान चाहिये
सहयोग के लिये
विदेशी मित्रो का आभार।
वास्तव मे भारत है-
एक बड़ा परिवार।
सौ करोड़ का भारत
दु:ख में एक साथ खड़ा है
इसलिये दुनियाँ की नजरो में
सबसे बडा है।
सुनामी पीड़ितो के प्रति
दान नही
दायित्व का बोध जगाओ और
मानवता की सेवा के लिये
मिलकर कदम बढाओ।
-------------------------------------------------------------------
तूफान

सुनामी समुद्री तूफान
लील गई हजारों लोगों की जान।
विज्ञान का विकास
पहुंच गया चाँद तक, परन्तु
धरती के रहस्यों से दूर है,
आदमी कितना मजबूर है।
हमने प्रकृति को पूजा
शक्ति को स्वीकारा
प्रकृति माँ देती रही सहारा।
अगर अन्धा मनुष्य
कुदरत का दोहन यूं ही करेगा तो
प्रकृति के प्रकोप से कैसे बचेगा?
जीओ और जीने दो का मंत्र गुंजायें
प्रकृति से मैत्री निभायें।
------------------------------------------------------------------
लालू-लीला

लालू की एफ. आई. आर.
चुनाव आयोग को नमस्कार।
अपने पेट को चारा
वोटर को मिठाई
लालू की लीला
समझ नही आई।
बिहार के राजा
यू. पी. ए. के महाराजा
कौन बजा सकता है?
आपका बाजा।
इस चुनाव मे लगता है
लालटेन में तेल नही पानी है
अत: हार ही लालू की कहानी है।
-------------------------------------------------------------
Post a Comment