Saturday, April 21, 2007

वीरेन्द्र प्रभाकर

पदमश्री
वीरेन्द्र प्रभाकर
दून स्कूल की शान तथा
महान कला साधक
सुधीर खास्तगीर द्वारा दीक्षित एक
महान इन्सान ही नहीं अपितु
चित्रकार
मूर्तिकार
कलाकार
साहित्य साधक और
सरस्वती के अराधक है।
चेहरे पर मुस्कान
विनम्रता की खान
उपलब्धियों के कीर्तिमान
चित्रकला संगम की पहचान तथा
फोटोग्राफी दुनिया के
चलते फिरते धाम को
शत शत प्रणाम॥
Post a Comment