Monday, September 15, 2014

हिंदी चीनी

हिंदी चीनी नारे हैं बस प्यार नहीं। 
सीमा रेखा  करता सत्कार नहीं।।
मेहमान खड़ा है जब मोदी के दरवाजे। 
बासठ वाली गद्दारी स्वीकार नहीं।। 

Post a Comment