Tuesday, June 16, 2009

कवि परिवार को एक और झटका


आज प्रात: कवि दीपक गुप्ता ने फोन पर बताया कि छ्न्द सम्राट सुप्रसिद्ध हास्य कवि श्री अल्हड़ बीकानेरी का नोएडा के कैलाश अस्पताल में निधन हो गया। यह कवि परिवार के लिये एक बड़ा अघात है। राष्ट्रीय कवि संगम की ओर से विनम्र श्रद्धांजलि ।



अल्हड़
जी का विस्तृत परिचय :

पूरा नाम :- श्याम लाल शर्मा
जन्म :- 17 मई, 1937, गाँव - बीकानेर
जिला :- रेवाड़ी ( हरियाणा-भारत)

शब्द यात्रा :- 1962 से गीत-ग़ज़ल में पदार्पण। 1967 से हास्य-व्यंग्य कविताओं का देश-विदेश में सस्वर काव्य-पाठ। आकाशवाणी तथा दूरदर्शन से प्रसारित। लगभग सभी प्रमुख पत्र-पत्रिकाओं में रचनाएं प्रकाशित।

फिल्म-यात्रा :- 1986 में हरियाणवी फीचर फिल्म (रंगीन)- ' छोटी साली' के गीत-कहानी का लेखन तथा निर्माण-कार्य।

प्रकाशन-यात्रा :- 1-भज प्यारे तू सीताराम, 2- घाट-घाट घूमे, 3- अभी हँसता हूँ, 4- अब तो आँसू पोंछ, 5- भैंसा पीवे सोमरस, 6- ठाठ ग़ज़ल के, 7- रेत पर जहाज, 8- अनछुए हाथ, 9- खोल न देना द्वार।

पुरस्कार यात्रा :- 1- ठिठोली पुरस्कार-दिल्ली -1981, 2-काका हाथरसी पुरस्कार-हाथरस-1986, 3- टेपा पुरस्कार-उज्जैन-2000, 4- मानस पुरस्कार -कानपुर - 2000, 5- व्यंग्य श्री पुरस्कार - बदायूँ-2004।

सम्मान यात्रा :- 1- लायंस क्लब, दिल्ली -1982, 2- अखिल भारतीय नागरिक परिषद-1993, 3 - राष्ट्रपति द्वारा अभिनन्दन -1996, 4- 'यथासंभव' - उज्जैन-1997, 5- 'काव्य-गौरव'-अखिल भारतीय कवि सभा दिल्ली -1998, 6-'काका हाथरसी सम्मान' - दिल्ली सरकार -2000।

विदेश यात्रा :- थाईलैण्ड, सिंगापुर-1990, मस्कट-2004।
Post a Comment